रिजर्व बैंक मौद्रिक नीति समिति की बैठक शुरू, दर पर फैसला कल

मुंबई, एक अगस्त (भाषा) रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल की अध्यक्षता में छह सदस्यीय मौद्रिक नीति समीक्षा (एमपीसी) की बैठक आज शुरू हो गई। दो दिन चलने वाली इस बैठक को लेकर उम्मीद की जा रही है कि एमपीसी इस बार मुख्य नीतिगत दर रेपो में 0.25 प्रतिशत की कटौती का फैसला करेगी। मुद्रास्फीति के रिकार्डनिम्न स्तर पर रहने के बीच इस बार रेपो दर में कटौती को लेकर काफी उम्मीद है।

मौद्रिक समीक्षा बैठक के फैसले की घोषणा कल की जायेगी। उद्योग जगत और शेयर बाजार के अलावा आर्थिक क्षेत्र से जुड़े तमाम लोगों को बैठक के नतीजे की प्रतीक्षा है।

मूल्य स्थिति में काफी सुधार आने के बीच बैंकरों को उम्मीद है कि रिजर्वबैंक मौद्रिक नीति उपायों में बदलाव करेगा और बैंचमार्क रिण दर में 0.25 प्रतिशत कटौती करेगा।

कुछ का यह भी मानना है कि रिवर्ज बैंक उम्मीद से भी अधिक कटौती कर सकता है क्योंकि खुदरा मुद्रास्फीति जून में 1.54 प्रतिशत के एतिहासिक निम्न स्तर पर पहुंच गई।

एमपीसी ने जून में हुई अपनी पिछली बैठक में मुख्य दर रेपो को 6.25 प्रतिशत पर स्थिर रखा था। केन्द्रीय बैंक ने जून में हुई बैठक के बाद जारी वक्तव्य में कहा था, ‘‘एमपीसी की तीसरी द्वैमासिक बैठक एक और दो अगस्त 2017 को होगी। बैठक में लिये गये निर्णय को दो अगस्त 2017 को दोपहर ढाई बजे वेबसाइट पर डाल दिया जायेगा।’’ मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमणियम ने खुदरा मुद्रस्फीति के आंकड़ों पर टिप्पणी करते हुये कहा था, ‘‘मुद्रास्फीति प्रक्रिया में आये गुणात्मक बदलाव को उन सभी ने नजरंदाज किया है जो मुद्रास्फीति के मामले में लगातार गलत अनुमान व्यक्त कर रहे हैं।’’ इस मामले में संभवत: उनका इशारा रिजर्वबैंक की तरफ था।

एमपीसी की पिछली बैठक में पटेल ने ‘‘समय से पहले कारवाई’’ से बचने और मुद्रास्फीति के और आंकड़े आने तक प्रतीक्षा पर जोर दिया।’’

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *