07sudhanshu14

हार्बट बांध से रिसाव पर गोरखपुर में बाढ़ का खतरा

नेपाल द्वारा पानी छोड़े जाने के बाद राप्ती नदी के जलस्तर में बृद्धि से गोरखपुर शहर के हार्बट बांध पर बने बहरामपुर, डोमिनगढ़, हासुपुर रेगुलेटरों में रिसाव शुरू हो गया है। रिसाव के बाद बंधे से सटे दर्जनों मोहल्लों में खतरा बढ़ गया है। नदी का पानी रेगुलेटरों से होकर मोहल्लों में घुस रहा है। बहरामपुर, पीपरापुर, हासूपुर में दर्जनों मकान जलमग्न हो चुके हैं। लोग परिवार व समान को सुरक्षित स्थान पर ठिकानों पर लगाने में लगे है। सूचना मिलते ही डीएम, कमिश्नर मौके पर पहुंच कर बचाव कार्य का जायजा ले रहे हैं। सिचाई विभाग व नगर निगम के अधिकारी, कर्मचारी संसाधनों के साथ बचाव कार्य कर रहे है। रेगुलेटर के जर्जर लोहे के प्लेट बदले जा रहे हैं। हावर्ट बांध पर प्रभावित मोहल्लों के लोग बड़ी संख्या में उतर आए हैं। लापरवाही को लेकर लोगो में काफी रोष है। पुलिस अधिकारी भी फोर्स के साथ सुरक्षा की लिहाज से मौजूद है।

बसंतपुर के रेगुलेटरों से रिसाव

अथक प्रयास के बाद दोपहर 12 बजे डोमिनगढ़ रेगुलेटर का रिसाव बन्द हो गया लेकिन बहरामपुर और बसंतपुर के रेगुलेटरों से रिसाव बन्द नहीं हो पा रहा है। मोहल्लों में जलजमाव को खत्म करने के लिये नगर निगम के सभी बाढ़ पम्पिंग स्टेशनों पर लगे इलेक्ट्रिक व डीज़ल इंजनों को चालू कर पाइपों के जरिये नदी में पानी फेंका जा रहा है। प्रभावित जफर कालोनी, बहरामपुर में वाराणसी से 11 बटालियन एनडीआरएफ की टीम भी आ गयी है। आइजी, डीआइजी भी मौके पर पहुंचे। कई लोग पलायन कर चुके हैं। तमाम लोग दूसरी मंजिल व छतों पर शरण लिए है।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *