Asteroid hitting earth, artwork

बस 3 माह और, खतरे में पृथ्वी !

वॉशिंगटनः अगर भविष्य में कोई खगोलीय पिंड धरती से टकराता है, तो उस खतरे से बचाव करने के लिए दुनिया कितनी तैयार है इसका जवाब जल्द मिल जाएगा। ऐसी स्थिति से निपटने के लिए खुद को तैयार करने के क्रम में NASA और बाकी अंतरिक्ष एजैंसियां जल्द ही एक परीक्षण करने जा रही हैं। यह परीक्षण किसी प्रयोगशाला में नहीं, बल्कि ब्रह्मांड के अंदर वास्तविक स्थितियों में किया जाएगा।

अक्टूबर में एक छोटा ऐस्टरॉयड धरती के पास से गुजरने वाला है। इस समय NASA व बाकी एजेंसियां पता लगाने की कोशिश करेंगी कि भविष्य में किन तरीकों और तकनीकों का इस्तेमाल कर धरती को खगोलीय पिंडों के खतरे से बचाया सकता है। इस मौके का फायदा उठाते हुए वैज्ञानिक इस ऐस्टरॉयड को करीब से देखने और समझने की कोशिश करेंगे। साथ ही, खगोलीय पिंडों के टकराने की स्थिति में धरती को बचाने के लिए धरती पर जो सिस्टम मौजूद हैं, उनकी भी जांच की जाएगी।

इससे मालूम चलेगा कि दुनिया के अलग-अलग देश इस तरह के संकट की स्थिति में धरती को सुरक्षित रखने के लिए किस तरह एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करते हैं। NASA के अलावा दुनिया की और कई अंतरिक्ष एजैंसियां साथ मिलकर इस मौके के लिए तैयारी करने में जुटी हैं। ऐसी किसी संभावित स्थिति से निपटने के लिए धरती पर जो सिस्टम्स मौजूद हैं, उनका ठीक तरह से परीक्षण नहीं हुआ। इस लिहाज से धरती की ओर आ रहा ऐस्टरॉयड इन्हें टेस्ट करने के लिए अच्छा मौका साबित होगा।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *